Dated:- November 16, 2016

Posted in:- Vichaar

Posted By:- Anonymous

Views:- 515 Views

Comments:-  0 comments

धन उपार्जन और आपका विवेक (पंकज “प्रखर”)

धन उपार्जन और आपका विवेक पंकज “प्रखर” पिछले दिनों अमीरी को इज्जत का माध्यम माना जाता रहा है। इज्जत पाना हर मनुष्य की स्वाभाविक इच्छा है। इसलिये प्रचलित मान्यताओं के अनुसार हर मनुष्य अमीरी का इच्छुक रहता है, ताकि उसे दूसरे लोग बड़ा आदमी समझें और इज्जत करें। अमीरी सीधे रास्ते नहीं आ सकती। उसके […]

Continue reading >>

Dated:- October 14, 2016

Posted in:- Uncategorized

Posted By:- Anonymous

Views:- 3576 Views

Comments:-  0 comments

विद्यार्थी जीवन में माता पिता की भूमिका, लेखक:- पंकज”प्रखर”

विद्यार्थियों के जीवन में सबसे बड़ी भूमिका में होते है मात पिता ये उनकी नैतिक जिम्मेदारी है की वे अपने बच्चों को नकारात्मक विचारों से बचाएं और अपने स्नेह एवं मार्गदर्शन से उनमे आत्मविश्वास का दीपक प्रज्वलित करें और उन्हें आश्वस्त करें की अगर वे अपनी इच्छानुसार सफलता नही भी प्राप्त कर पाए या पूरी […]

Continue reading >>

Dated:- September 30, 2016

Posted in:- Vichaar

Posted By:- Vicky Sharma

Views:- 654 Views

Comments:-  0 comments

अजित कुमार डोभाल

चाणक्य जैसा दिमाग और बाजीराव जैसा हौंसला। असली जिंदगी का james bond। IPS अजित कुमार डोभाल जो भारत के 6 साल जासूस रहे पाकिस्तान में। भारत के बदलते और खूंखार होते रुख के पीछे का mastermind। इनके बारे में कुछ ख़ास बातें : * 1945 में एक गढ़वाली ब्राह्मण परिवार में जन्म। पिता आर्मी में […]

Continue reading >>

Dated:- September 24, 2016

Posted in:- Vichaar

Posted By:- Pankaj Sharma

Views:- 854 Views

Comments:-  0 comments

व्यक्तित्व का निर्माण करते हमारे विचार लेखक:- पंकज”प्रखर” कोटा (राज.)

इस लेख का प्रारम्भ तुलसी बाबा की एक चौपाई से करता हूँ “जाकी रही भावना जैसी प्रभु मूरत देखि तिन तेसी” इस चौपाई का सार सीधे शब्दों में ये है की मनुष्य जैसा सोचता है वैसी ही सृष्टि का निर्माण वो अपने आस-पास करने लगता है| संसार में अनेक प्रकार के जीव पाए जाते है,जिनमे […]

Continue reading >>

Dated:-

Posted in:- Vichaar

Posted By:- Pankaj Sharma

Views:- 930 Views

Comments:-  0 comments

विद्यार्थियों के अवसाद का कारण परिवार और समाज लेखक :- पंकज “प्रखर” कोटा (राज.)

प्राचीन समय के मनीषियों से लेकर वर्तमान समय के दार्शनिको तक के विचारों को पड़ा जाए तो एक ही निचोड़ सामने आता है , समाज की भावी पीढ़ी (विद्यार्थी) किसी भी देश की मजबूत आधार शिला एवं पूंजी होती है | यदि किसी देश को हानि पहूँचानी हो तो वहां की शिक्षा प्रणाली में सेंध […]

Continue reading >>

Dated:- September 19, 2016

Posted in:- Vichaar

Posted By:- Anonymous

Views:- 625 Views

Comments:-  0 comments

A Strong Message to Pakistan by Indian Soldier

Continue reading >>

Dated:- September 17, 2016

Posted in:- Personalities

Posted By:- Anonymous

Views:- 1744 Views

Comments:-  0 comments

वीर माधवराव पेशवा

भारत के पेशवा बामनों की वीर गाथाएं महान और आत्मा में बिजली सी पैदा कर देने वाली हैं। ऐसा महान इतिहास शायद ही विश्व में किसी अन्य जाति का रहा हो जैसा की पेशवा ब्राह्मणों का। बाजीराव पेशवा, नाना साहेब पेशवा, श्रीमन्त पेशवा, सदाशिव राव पेशवा और कई अन्य।पानीपत की लड़ाई हो या दिल्ली का […]

Continue reading >>

Dated:- September 14, 2016

Posted in:- Vichaar

Posted By:- Anonymous

Views:- 743 Views

Comments:-  0 comments

WHAT IS SPECIAL ABOUT BEING A HINDU?

By Francois Gautier 1) Believe in God ! – Aastik – Accepted 2) Don’t believe in God ! – You’re accepted as Nastik 3) You want to worship idols – please go ahead. You are a murti pujak. 4) You dont want to worship idols – no problem. You can focus on Nirguna Brahman. 5) […]

Continue reading >>

Dated:- September 9, 2016

Posted in:- Vichaar

Posted By:- Anonymous

Views:- 374 Views

Comments:-  0 comments

याक़ूब मेनन को बचाने वालों के दाऊद और अंडरवर्ड कनैक्शन की सीबीआई जांच होनी चाहिए

याक़ूब मेनन को बचाने वालों के दाऊद कनैक्शन और अंडरवर्ड कनैक्शन की सीबीआई जांच होनी चाहिए। देखा दाऊद का जलवा |देखी पाकिस्तान की ताकत | देखा “सेकुलर-वामपंथी गिरोह” का बाहुबल… पान-सिगरेट की दुकान की तरह रात के दो बजे सुप्रीम कोर्ट खुलवाई जाती है, लाखों की फीस लेने वाले दस वकील रात भर खड़े रहते हैं… […]

Continue reading >>

Dated:- September 3, 2016

Posted in:- Vichaar

Posted By:- Vicky Sharma

Views:- 434 Views

Comments:-  0 comments

नवजोत सिंह सिद्धू जी को वोट क्यों देना चाहिए ?

1. याद रखें यह वही आदमी है जिसने भारत की संसद में खड़े होकर अमृतसर को लव-कुश की जन्मस्थली कहा था। जिसने इसे ऋषि वाल्मीकि की नगरी कह कर पुकारा था। 2. यह वही आदमी है जिसके घर के अंदर एक बड़ा शिव मन्दिर है जहां 11 ब्राह्मण सेवा करते हैं । सिद्धू वहां विधिवत […]

Continue reading >>

Popular Articles